Saturday, 28 September 2019

ग्यासपुरा में सात दिवसीय श्रीमद देवी भागवत कथा ज्ञान यज्ञ का आयोजन

Saturday:Sep 28, 2019, 4:37 PM
आयोजन दिव्य ज्योति जागृति संस्थान की ओर से ग्यासपुरा  में 
लुधियाना: 28 सितंबर 2019: (आराधना टाईम्ज़ ब्यूरो)::
दिव्य ज्योति जागृति संस्थान की ओर से गगन नगर ग्यासपुरा  में  29 सितम्बर से 5 अक्टूबर  तक सात दिवसीय श्रीमद देवी भागवत  कथा ज्ञान यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। जिसका समय प्रतिदिन सांय 7 बजे से रात्रि 10 बजे तक रहेगा। इस कथा में आप  को   माँ के विभिन्न अवतारों के पीछे छिपे रहस्यों को  अध्यात्म, विज्ञान, संगीत के माध्यम से रसपान करेंगे। इस कथा को वांचने के लिए श्री आशुतोष महाराज जी की शिष्या  साध्वी  भद्रा भारती जी दिल्ली से पधार रही हैं। 

इस उपलक्ष्य में शहर में मंगल कलश यात्रा का आयोजन किया गया।  इस कलश यात्रा की शुरुआत स्वामी प्रकाशानंद जी,  पार्षद सोनिया शर्मा ,श्री पंकज शर्मा ,बलजीत सिंह मान,निर्मल सिंह,सरबजीत सिंह जी,तरलोचन सिंह काका जी  द्वारा झंडी   दिखाकर की गई।कलश यात्रा  से पहले  श्री  सुमन ठाकुर,धर्मपत्नी पूनम ठाकुर सपरिवार द्वारा पूजन करवाया गया। कलश यात्रा के महत्व को बताते हुए दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान की ओर से श्री आशुतोष महाराज जी के शिष्य  स्वामी गुरुकृपानंद जी ने कहा कि  माँ शक्ति के सभी रूप मोक्ष और बलिदान का संदेश देते हैं।वह शुद्धता ,ज्ञान,सत्य और आत्म साक्षत्कार का अवतार है।कलश के अग्रभाग में देवताओं का निवास होता है। दूसरा, यह हमारे मानव मस्तिष्क का भी प्रतीक है। जिसमें अमृत का कुंड स्वीकार किया गया है। कलश यात्रा हमें निमंत्रण देती है कि आओ अपने मानव तन में ही परमात्मा का दीदार प्राप्त करो। यही हमारे जीवन का लक्ष्य है। इस यात्रा में  प्रदूषित हो रहे वातावरण के प्रति लोगों को जागरूक करने हेतु पर्यावरण संरक्षण नामक झांकी का भी आयोजन किया गया, जिसमें बताया गया कि यदि वातावरण को प्रदूषित होने से न रोका गया तो आने वाले समय में हमारे लिए सांस लेना मुश्किल हो जाएगा। इसलिए हमें अधिक से अधिक वृक्ष लगाने चाहिए ओर उनकी देखभाल भी करनी चाहिए। ताकि हमारी आने वाली पीढिय़ां अच्छे से जीवन यापन कर सकें।

वैदिक मंत्र उच्चारण के साथ इस कलश यात्रा में   501 सौभाग्यवती महिलायें  पीले वस्त्रों में  कलश उठा कर चलीं और प्रभु के आशीर्वाद को प्राप्त किया। सारा शहर इस यात्रा की भव्यता में लीन हो गया ।यह कलश यात्रा विभिन्न  मार्गों से होती हुई कथा स्थल पर आकर समाप्त हुई।  कलश यात्रा का जगह-जगह पर बहुत ही श्रद्धा और सम्मान के साथ स्वागत किया गया। 

Friday, 5 April 2019

नवरात्रि के पावन पर्व पर दमोह में विशेष आयोजन


24 घंटे के अखंड श्री चालीसा पाठ का आयोजन
दमोह: (मध्य प्रदेश): 5 अप्रैल 2019: (आराधना टाईम्ज़ सर्विस)::
संकेतिक और साभार चित्र 
आध्यात्मिक साधना के सुसवसर पर आप सभी लोग आमंत्रित हैं। यह आमंत्रण आयोजकों की तरफ से बहुत ही श्रद्धा भावना से दिया जा रहा है। विश्व वंदनीय धर्म सम्राट युग चेतना पुरुष परमहंस योगीराज श्री शक्तिपुत्र जी महाराज जी के आशीर्वाद स्वरुप एवं आदिशक्ति जगत जननी जगदंबा की कृपा से नवरात्रि के पावन पर्व पर 6 अप्रैल 2019  को सुबह 9:00 बजे से 24 घंटे के अखंड श्री चालीसा पाठ का आयोजन किया जा रहा है जिस का समापन 7 अप्रैल 2019 को सुबह 9:00 बजे किया जाएगा इस दिव्य अनुष्ठान में सभी गुरु भाई गुरु बहने मां के भक्त टीम प्रमुख सक्रिय कार्यकर्ता भगवती मानव कल्याण के सभी पदाधिकारी सादर आमंत्रित है। 
इस कार्यक्रम के आयोजक हैं श्री प्रमोद पटेल (जिला मीडिया प्रभारी दमोह)
कार्यक्रम का पावन स्थल होगा-एसपीएम नगर नई पुलिस लाइन दमोह मध्य प्रदेश
टीम के प्रमुख श्री ज्ञानी रजक जी दमोह आप सभी को आमंत्रित करते हैं। जय माता की जय गुरुवर की।
ज्ञानी रजक जी का सम्पर्क नंबर है:+91 98939 23054
 

Sunday, 27 January 2019

बहुत ही भव्य और दिव्या था "भज गोविन्दम" का आयोजन

देश प्रेम और अध्यात्म चर्चा की संगीतमय प्रस्तुति 
लुधियाना: 27 जनवरी 2019: (मीडिया लिंक रविन्द्र//आराधना टाईम्ज़ टीम)::
गणतंत्र दिवस की संध्या। तिरंगा फहराने के बहुत से आयोजन। उसके बाद थके मांदे लोग। जब शाम को सारा उत्साह समाप्त हो चूका था उस समय मिली एक नयी ऊर्जा। जब गरीब और बेबस लोगों को देखते हुए देश को विकास के मार्ग पर ले जाने के सारे दावे खोखले लगने लगे थे। देश की स्थिति को देख कर मन में बार  बार उठते सवाल निराशा के मारे दम तोड़ रहे थे उस समय एक आयोजन इन सवालों के जवाबों की चर्चा कर रहा था। आयोजन इसी लोक में था लेकिन अलौकिक सा लग रहा था।
और तस्वीरें फेसबुक पर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 
दिव्य ज्योति जागृति संस्थान द्धारा गुरु नानक देव भवन में 'भज गोविंदम' नामक  भव्य भजन संध्या   का आयोजन किया गया जिसकी शुरुआत बहुत ही दिव्य भी थी हुए भव्य भी। इस मौके पर स्वामी गुरुकिरपानंद जी, स्वामी प्रकाश आनंद जी, श्री रवनीत बिट्टू (एम.पी), श्री संजय तलवार (एमएलए), श्री श्याम सुन्दर मलहोत्रा (सीनियर डिप्टी मेयर), श्री जतिंदर मित्तल जी( लुधियाना  बीपीपी प्रेसिडेंट), श्री अश्विनी शर्मा (लुधियाना कांग्रेस प्रेजिडेंट), श्री गुरदेव देबी जी (कैशियर बीजेपी,पंजाब), श्री अमरजीत बैंस (एस.डी.एम), श्री कमल चेटली जी (सीनियर बीजेपी लीडर), श्री रजनीश धिमान (वाइस प्रेसिडेंट बी जे पी, लुधियाना) आदि ने संयुक्त रूप से ज्योति प्रज्वलित की। इस अवसर पर अपने प्रवचनों के अमृतरस का प्रवाह करते हुए सर्व श्री आशुतोष महाराज की परम शिष्या साध्वी सुमेधा भारती जी ने कहा कि वेदों में ईश्वर के समक्ष प्रर्थना की गई है कि प्रभु हमें असत्य से सत्य पथ की यात्रा करवाओ, हमें अंधकार से प्रकाश का मार्ग दिखाओ। लेकिन विचार करें कि अंधकार और प्रकाश का मार्ग क्या है? असत्य से सत्य की यात्रा क्या है? अंधकार का भाव है अज्ञानता जो मानव मन पर छाई हुई है। जिसके चलते आज समाज में भांति-भांति की कुरीतीयां जन्म ले रही हैं। कहीं पर नशाखोरी की सुनामी जैसी भयंकर लहरों में हमारी युवा पीढी डूबकर समाप्त हो रही है तो कहीं पर कन्या भ्रुण हत्या अमावस्या की काली रात्रि की तरह फैल कर नन्ही कलीयों को खिलने से पहले ही अपना ग्रास बना रही है। देश की सभी समस्याओं की चर्चा भी थी लेकिन इनके समाधान की बात भी चल रही थी। न किसी पर आरोप न किसी की आलोचना। बस देश की  युवा शक्ति को आमंत्रण की युवा हो तो फिर आगे बढ़ो। देश को बचना ही प्रथम कर्तव्य है। 
और तस्वीरें फेसबुक पर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 
        बात केवल धर्म या अध्यात्म की नहीं थी। देश प्रेम की चर्चा भी थी। वह भी पूरी गहनता के साथ। स्वामी विवेकानंद जी की याद दिलाई थी। स्वतंत्रत संग्राम के नाज़ुक पड़ावों की चर्चा भी की जा रही थी। इसके साथ ही सुरीली आवाज़ों में भजन गायन भी जारी था। फिल्मों के साथ, रंगमंच के साथ, इप्टा जैसे संगठनों के ज़रिये कला, राजनीति और बहुत से अन्य क्षेत्रों से जुड़े हुए कुंवर रंजन सिंह इस सारे कार्यक्रम को बहुत ही मस्त हो कर देख रहे थे। एक एक शब्द में छुपे अमृत का रसपान करते लग रहे थे। आध्यात्मिक प्रवचनों के इस सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए साध्वी जी ने कहा कि वेदों में इंसान को अमृत की संतान कहा गया है लेकिन हम विचार करें की क्या हम सच में अमृत की संतान है। हम संसार की ओर  नज़र दौड़ाकर  देखें  तो हम अमृत की संतान कहलाने के योग्य नहीं है। हमारा भविष्य हमारा युवा आज अमृतत्व को छोड़कर मृतत्व की ओर जा रहा है। कहने का मतलब कि हमारा युवा वर्ग जिसके कंधों पर हमारे देश का भविष्य टिका है आज वही युवा अपने नशे के कारण अपने पैरों  पर खड़ा  होने के योग्य  भी नहीं है। नशे की ऐसी दलदल में फसे होने का कारण हमारी युवा पीढ़ी का उसके पथ से भटक जाना। क्योंकि जो नशा है किसी को जीवन नहीं देता किसी को अमृत नही बांटता। नशा तो जीवन का नाश करता है वह तो सदैव मौत प्रदान करता है। ऐसी भयानक मौत जो पल पल इंसान को तड़पा तड़पा कर आती है। आगे साध्वी जी ने कहा कि हमारा जन्म ऐसी मौत को प्राप्त करने के लिए नहीं हुआ। हमारा जन्म तो अमृत को प्राप्त करने के लिए हुआ है। इस लिए हमारे महापुरूष इंसान को कहते है कि उठो जागो अमृत की संतानो और अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ो और उसे प्राप्त करो। यहां पर जागना प्रतीक है इंसान के मोह की नींद से जागने का और लक्षय है परम पिता प्रकाश में मिल जाने का। जिसके हम अंश है, जैसे नदी अपने लक्षय सागर से मिलने के लिए तीव्र वेग के साथ सदैव बढ़ती है ठीक वैसे ही मानव को अपने लक्षय ईश्वर से मिलने के लिए सदैव प्रयास रत रहना चाहिए। इस संसार में असत्य से शाशवत सत्य की ओर जाना ही हमारा परम लक्ष्य है। जब एक इंसान ऐसे  मार्ग पर चलता है तो जीवन से ऐसी कुरीतीयां अपने आप दूर हो जाती है। 
और तस्वीरें फेसबुक पर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 
        आगे साध्वी जी ने कहा कि आज वर्तमान समय में चारों ओर आतंकवाद की समस्या से भयभीत मानव बार-बार ईश्वर से राम राज्य की स्थापना की प्रार्थना करता है लेकिन वह यह नही जानता कि राम राज्य की स्थापना हेतु अवश्यक है शांति के पुँज ईश्वर को जानने की और वही मानव का लक्ष्य भी है। जब एक साधक के जीवन में गुरू का आगमन होता है तो वह भक्त को ईश्वर मिलन का सनातन मार्ग प्रदान करते है। जिसे प्राप्त करके इंसान असत्य से सत्य पथ की यात्रा करता है। पत्रकारिता और युवा शक्ति से जुड़े सुशील मल्होत्रा भी इस सारे कार्यक्रम में बहुत सक्रिय नज़र आये। उन्होंने भी ज्योति प्रज्वलन में बहुत ही श्रद्धा और आस्था से भाग लिया।
 और तस्वीरें फेसबुक पर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 

           इस अवसर पर  सर्वश्री विपन विनायक-पल्लवी विनायक(पार्षद), दिलराज सिंह (पार्षद), देवेन्द्र  घुमन(पार्षद), जितेन्द्र जी (प्रचारक आरएसएस), मदन लाल बस्सी (एमडी सूरज उद्योग), गिरधारी लाल बस्सी (एमडी मून लाइट), सुशील कौड़ा (सेक्रेटरी महावीर इंटरनेशनल संस्था), प्रवीण डंग जी (हिन्दू सिख जागृति सेना प्रधान), सरपंच सुखवंत सिंह जी, श्री चमनलाल चेतली (एमडी चेतली स्टेट प्राइवेट लिमिटेड), श्री फूलचंद्र जैन (शाही लिबास), श्री टी. आर.मिश्रा जी (एम. डी. मिश्रा बॉयलर), श्री दिनेश मरवाहा (श्री रामलीला कमेटी), संदीप मरवाहा, प्रोफेसर दविंदर जोशी जी, प्रदीप शर्मा (एफआईबी), श्री जीवन गुप्ता (बीजेपी लीडर), श्री अश्वनी बहल जी (हर हर महादेव सेवा समिति), श्री बलवीर कोलार (एमडी कोलार बिल्डर्स), श्री अशोक कुमार जैन (एमडी मिनी किंग), हरी मंदिर कमेटी जनता नगर, गणपत राय विग (योग संस्थान), श्री संजय जैन जी (प्रधान सनातन सभा, बत्ती सेक्टर), डॉ वैशाली ग्रोवर, डॉक्टर राजीव ग्रोवर, राजिंदर खत्री, श्री हर्ष थापर,डॉक्टर राकेश गोयल जी, श्री पुष्पेन्द्र सिंगल जी और अन्य लोग भी विशेष रूप में पहुंचे।
और तस्वीरें फेसबुक पर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 
ख़ास बात यह थी कि इस सारे कार्यक्रम में खुद को बहुत लम्बे समय तक नास्तिक कहने और कहलाने वाले लोग भी बहुत ही रंग में रंगे हुए नज़र आए। उन्होंने जो  उनकी चर्चा किसी  अलग पोस्ट में की जाएगी। 
और तस्वीरें फेसबुक पर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 

Friday, 25 January 2019

भज गोविन्दम के लिए निमंत्रण देने का अभियान जारी

आयोजन 26 जनवरी 2019 को लुधियाना के गुरु नानक भवन में  
लुधियाना:24 जनवरी 2019: (आराधना टाईम्ज़ ब्यूरो):: 
बहुत से विरोधों और विवादों के बावजूद दिव्या ज्योति जागृति संस्थान निरंतर सक्रिय है। मामला सतसंग आयोजनों का हो या फिर शिक्षा से सबंधित अन्य क्षेत्रों का। इस संस्थान ने हमेशां इस बात  केंद्रित रखा कि उनका अभियान तेज़ कैसे हो। इस बार तैयारी है भज गोविन्दम भजन संध्या की। दिव्य ज्योति जागृति संस्थान से स्वामी प्रकाशा नंद ने जिला कांग्रेस के नव नियुक्त जिला प्रधान अश्विनी शर्मा एवं सूरज उद्धोग के मदन लाल बस्सी से एक भेंट करके उन्हें आमंत्रित किया। स्वामी प्रकाशा नंद ने इन दोनों को भज गोविन्दम भजन संध्या का निमंत्रण कार्ड दे कर आयोजन में आने के लिए निमंत्रित किया। स्वामी प्रकाशा नंद ने   बताया कि यह प्रोग्राम 26 जनवरी  को गुरु नानक देव भवन ,भारत नगर चौक में साय 6 से 9 30 बजे तक होगा। इस यादगारी आयोजन में पहुंचने वालों को आध्यत्मिक जागृति के दुर्लभ आनंद के पल प्राप्त होंगें। 

Thursday, 24 January 2019

महिफल साँईया की सजेगी 16 फरवरी को लुधियाना के दरेसी मैदान में

Jan 24, 2019, 5:55 PM
आयोजन के लिए उत्साह की लहर 
लुधियाना: 24 जनवरी 2019: (एस के ए//आराधना टाईम्ज़)::
साँई गुलाम शाह सेवा संघ की और से 16 फरवरी 2019 दिन शनिवार  को दरेसी मैदान में रात्रि 7 बजे से साँई इच्छा तक करवाई जा रही है जिसको लेकर  प्रचार सामग्री जारी की गई उस दौरान शिव सेना पंजाब से  राजीव टंडन,टकसाली नेता संदीप थापर गोरा,युवा भाजपा प्रधान महेश शर्मा, कावड़ संघ के हरीश शर्मा बोबी, भाजपा नेता गोल्डी सभरवाल, जितेंद्र कपूर, सुरिंदर बावा, सुमित धीर, प्रिंस कपूर, कमल बस्सी, सोनू कौशल, साहिल खुराना, नितिन, अंकुर वधवा मौजूद थे।

Wednesday, 14 November 2018

अखिल भारतीय संत समिति में हुए खास ऐलान

धर्मान्तरण तथा लव जेहाद आदि विषयों पर भी हुआ विचार विमर्श 
जालंधर//नई दिल्ली:13 नवम्बर 2018: (राजपाल कौर//आराधना टाईम्ज़)::

गत दिवस दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में अखिल भारतीय संत समिति का विशाल आयोजन किया गया।इस समागम में विशेष रूप से समस्त भारत से आये हुए महामण्डलेश्वर ,शंकराचार्य तथा समूह साधु-संतों में ,नामधारी प्रमुख सतगुरु दलीप सिंह जी के अनुयायी भी काफी संख्या में हाजिर हुए। इस समागम में मुख्य रूप से 31 अक्टूबर 1984 को प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की हत्या के बाद मारे जाने वाले सिक्खों और 7 नवम्बर 1986 को दिल्ली के रामलीला मैदान में गौवध को रोकने के लिए शहीद हुए संतों एवं गौभक्तों व श्री राम जन्म भूमि के कार सेवकों को श्रद्धांजली भेंट की गई। गौरतलब है कि ये लोग 30 अक्टूबर  और 2 नवम्बर 1990 को अयोध्या में मारे गए थे। इसके अलावा श्री राम जन्म भूमि पर भव्य मन्दिर के निर्माण तथा हमारे समाज में हो रहे धर्मान्तरण तथा लव जेहाद आदि विषयों पर विचार विमर्श किए गए। इस समिति की बैठक मेंखास तौर पर सतगुरु दलीप सिंह जी द्वारा भेजा गया संदेश श्री जयप्रकाश गोयल जी ने पढ़ कर सुनाया जो कि पवित्र गुरबाणी के अनुसार आपसी एकता और विशेष रूप से हिन्दु-सिक्ख एकता को और मजबूत करने वाला था, जिसमें अन्य त्योहारों को मिलकर मनाने के इलावा इस साल सांझीवालता व परस्पर प्रेम के प्रवर्तक सतगुरु नानक देव जी का 550 वां प्रकाश उत्सव गुरद्वारों के इलावा मंदिरों में भी धूमधाम से मनाने का सुझाव रखा। इस महान संदेश के समर्थन में सारा हॉल जो बोले सो निहाल तथा जय श्री राम के जयकारों से गूँज उठा।इस आयोजन के अध्यक्ष जगद्गुरु हंसादेव आचार्या जी ने नामधारी सतगुरु, ठाकुर दलीप सिंह जी के समाज कल्याण के कार्यो की चर्चा और प्रशंसा भी की। आप जी ने इस महान सभा में इस बात की भी बड़े गर्व से घोषणा की तथा वचन दिया कि अखिल भारतीय संत समिति और सारा संत समाज हमेशा सतगुरु, ठाकुर दलीप सिंह जी के साथ खड़ा है। इसके साथ ही आप जी ने यह भी बताया कि संघ तथा विश्व हिन्दु परिषद भी आपसे पूरी तरह जुड़े हैं तो हम भिन्न कैसे हो सकते हैं। इस अवसर पर महान संत, महन्त ज्ञानदेव जी, श्री श्री रविशंकर जी, शंकराचार्य वासुदेव जी, ब्रह्मचारी वागीश स्वरूप जी तथा तथा नामधारी पंथ के सूबा भगत सिंह जी महद्दीपुर, सूबा भगत सिंह जी यू.पी., सूबा अमरीक सिंह जी, तजिन्दर सिंह जी (विश्व हिन्दू परिषद के प्रान्त प्रधान), वकील नरिंदर सिंह जी, हरभजन सिंह फोरमैन, मलकीत सिंह बीड़, अरविंदर सिंह दिल्ली ,पलविंदर सिंह कूकी,प्रभजिंदर सिंह,गुरदेव सिंह आदि हाजिर थे।